Google ko hack kaise karen | गूगल को हैक कैसे करें – पूरी जानकारी

Google ko hack kaise karen | गूगल को हैक कैसे करें – पूरी जानकारी

Hello गाइज़ आज हम जानेंगे google ko hack kaise karen या गूगल को कैसे हैक करें आजकल हर कोई हैकिंग सीखना चाहता है आज के जितने भी युवा है सभी के सर पर हैकिंग का जुनून सवार हो गया है इसी वजह से आजकल लोग फेसबुक हैकिंग से लेकर गूगल हैकिंग तक में इंटरेस्ट रखते हैं हालांकि फेसबुक और व्हाट्सएप जैसे प्लेटफार्म पर हैकिंग करने के लिए मैंने ऑलरेडी आर्टिकल लिखा हुआ है लेकिन मैं कई दिनों से देख रहा था की गूगल को हैक कैसे करें इस सवाल को भी हजारों लोग इंटरनेट पर सर्च कर रहे हैं तो मैंने सोचा इस पर भी एक आर्टिकल मुझे लिखना चाहिए ताकि आपको आपके सवाल का जवाब मिल जाए वैसे हैकिंग सीखना कोई बुरी बात नहीं है लेकिन हैकिंग का गलत इस्तेमाल करना ये बहुत बुरी बात है अगर आपको नहीं पता है तो आपको बता दूँ हैकिंग करना इल्लीगल है हैकिंग एक क्राइम जुर्म है इसलिए हमें कभी हैकिंग का गलत इस्तेमाल नहीं करना चाहिए अगर ऐसा करते हुए आप पकड़े जाते हैं तो आप को जेल भी हो सकती है इसलिए हैकिंग का इस्तेमाल सिर्फ अपने बचाव के लिए करना चाहिए अपनी सिक्योरिटी के लिए करना चाहिए ना कि दूसरों को नुकसान पहुंचाना चाहिए हर वर्ष साइबर क्राइम लगातार बढ़ते जा रहा है साइबर सिक्योरिटी टीम इसे रोकने के लिए पूरी कोशिश में लगी रहती है लेकिन इसके बावजूद साइबर क्राइम कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है।

और यही कारण है कि आज आम इंसानों का डाटा खतरे में है ऐसे में हम सभी को थोड़ी बहुत है क्योंकि नॉलेज होना बहुत ही जरूरी हो गया है ताकि हम अपने डेटा को सुरक्षित रख सके और हैकरर्स से बचा सकें।

Google ko hack kaise karen | गूगल को हैक कैसे करें

Google ko hack kaise karen | गूगल को हैक कैसे करें

जैसा कि हम सब जानते हैं गूगल दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन माना जाता है इसे टक्कर देने वाला अभी तक कोई भी सर्च इंजन दूसरा नहीं बन सका है यही कारण है कि गूगल आज भी नंबर 1 पर गिना जाता है जीमेल और यूट्यूब जैसे प्लेटफार्म भी गूगल के द्वारा बनाए गए हैं ये भी गूगल के ही प्लेटफार्म है अगर आपको नहीं पता है तो आपको बता दूँ यूट्यूब दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा सर्च इंजन माना जाता है जो कि खुद भी गूगल का ही प्रोडक्ट है इसे गूगल ने ही बनाया है गूगल के पास 271 से भी ज्यादा खुद के प्लेटफार्म है जिनमें गूगल डॉक्स,गूगल फोटोज, यूट्यूब, जीमेल, गूगल डुओ, गूगल एड्स, क्रोम ब्राउज़र आदि जैसे प्लेटफार्म शामिल हैं शायद यही वजह है कि आज गूगल इतना पैसा कमाता है कि आप सपनों में भी नहीं सोच सकते हैं गूगल जितना पैसा एक हफ्ते में कमा लेता है शायद आप पूरी जिंदगी में भी इतना पैसा न कमा पाएं हां अगर अब आप अंबानी जैसे लोगों की औलाद है तो फिर बात दूसरी है बाकी अगर आप नॉर्मल इंसान हैं तो फिर आप गूगल की कमाई अपने सपने में भी नहीं सोच सकते हैं अब इसी तरह से आपको गूगल की सिक्योरिटी कितनी ज्यादा मजबूत है इसका भी अंदाजा नहीं होगा मानी सी बात है जो प्लेटफार्म इतनी ज्यादा कमाई करता है वो अपनी सिक्योरिटी पर भी खास ध्यान रखता है।

 क्योंकि उसके प्लेटफार्म पर आए दिन बड़े से बड़े हैकर्स अपने पूरे ग्रुप के साथ मिलकर अटैक करते रहते हैं इस वजह से अपनी सिक्योरिटी पर गूगल अरबों खरबों रुपए खर्च करता है और गूगल की सिक्योरिटी इतनी ज्यादा मजबूत है कि उसे है हैक कर पाना इतना आसान काम नहीं है मैं ये नहीं कह रहा गूगल को कभी कोई हैक नहीं कर सकता है एप्पल जैसी बड़ी कंपनी जो आपने सिक्योरिटी के लिए ताल ठोक कर दावा करती थी कि एप्पल कंपनी को कोई हैक नहीं कर सकता है।




जब एप्पल जैसी कंपनी हैक हो गई माइक्रोसॉफ्ट जैसी कंपनी हैक हो गई और गूगल भी हैक हो चुका है तो आप अंदाजा लगा सकते हैं कि इस दुनिया में कितने बड़े बड़े हैकर बैठे हुए हैं जो लगातार बड़ी-बड़ी कंपनियों को अपना निशाना बनाने में लगे रहते हैं और कभी ना कभी वो अपने मिशन में कामयाब भी हो जाते हैं इसी वजह से गूगल अपनी सिक्योरिटी को लेकर बहुत ज्यादा सख्त रहता है गूगल अपनी सिक्योरिटी को मजबूत करने के लिए हर दिन करोड़ों रुपए खर्च कर देता है क्योंकि गूगल हैक होने का मतलब है दुनिया के करोड़ों लोगों का डाटा खतरे में पड़ सकता है क्योंकि आजकल हम सभी गूगल का इस्तेमाल करते हैं और हम सभी का गूगल पर अकाउंट भी होता है अगर ऐसे में कोई हमारे गूगल अकाउंट को हैक कर ले तो वो हमारे पूरे डाटा को नुकसान पहुंचा सकता है गूगल अकाउंट को हम जीमेल अकाउंट भी कहते हैं आप सभी के पास भी जीमेल अकाउंट जरूर होगी और गूगल के ज्यादातर सभी प्रोडक्ट लगभग ही जीमेल अकाउंट से ही चलते हैं बिना जीमेल से लॉगिन किए हम गूगल की सर्विस का आनंद नहीं ले पाते हैं इस वजह से गूगल अकाउंट बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है अगर ऐसे में कोई हमारे गूगल अकाउंट को यानि कि हमारे जीमेल अकाउंट को हैक कर ले तो हमारा यूट्यूब चैनल हमारी वेबसाइट हमारे गूगल फोटोज अकाउंट जैसे और भी प्लेटफार्म के डाटा को हैक कर सकता है ऐसे में हमें बहुत बड़ा खतरा झेलना पड़ सकता है।

इसलिए गूगल अपने यूजर्स की सिक्योरिटी के लिए कड़ी मेहनत करता है और बहुत पैसे खर्च करता है अगर आपके पास हैकिंग की कोई भी स्किल नहीं है तो आप गूगल को कभी भी हैक नहीं कर सकते हैं लेकिन हां अगर आपके पास हैकिंग की थोड़ी बहुत नॉलेज है तो आप लोगों का गूगल अकाउंट हैक करके उनके बाकी के अकाउंट को भी एक्सेस कर सकते हैं।



जितनी भी बड़ी-बड़ी कंपनियां है सब ने अपने कंपनी के ऊपर बहुत बड़ा इनाम रखा हुआ है उनका कहना है यदि कोई हमारी कंपनी को हैक करेगा तो हम उसको अच्छी खासी मोटी रकम देंगे इनमें गूगल, एप्पल, माइक्रोसॉफ्ट जैसी बड़ी-बड़ी कंपनियां शामिल हैं अगर आप एक बहुत बड़े हैकर हैं तो बेशक आप इन कंपनियों को हैक करके इनाम जीत सकते हैं यह इनाम हैकर्स को इसलिए दिया जाता है ताकि जो बड़े-बड़े हैं करते हैं वह इन कंपनियों को हैक करके दिखाएं और इनमें जो कमियां हैं वह ढूंढ कर दिखाए ताकि इन कंपनियों को और भी ज्यादा मजबूत बनाया जा सके इसमें इन कंपनियों का भी फायदा होता है और हैकर का भी फायदा होता है इसलिए यह प्रतियोगिता हर वर्ष रखी जाती है जिनमें बड़े से बड़े हैकर हिस्सा लेते हैं और अपनी स्किल दिखाते हैं लेकिन अगर आपके पास हैकिंग से रिलेटेड कोई भी स्किल नहीं है तो आप गूगल को हैक करने का सपना छोड़ दे लेकिन हां अगर आपके पास थोड़ी बहुत स्किल है तो आप गूगल को तो नहीं हैक कर सकते लेकिन लोगों के गूगल अकाउंट को हैक करके आप लोगों का डाटा एक्सेस कर सकते हैं इसके लिए आपको लोगों का जीमेल अकाउंट हैक करना होगा अगर आपको नहीं पता है कि जीमेल अकाउंट कैसे हैक किया जा सकता है तो इसके लिए नीचे मैं आपको विस्तार में बताऊंगा लेकिन एक बात को अपने दिमाग में बैठा लें google ko hack kaise karen या गूगल को हैक करने का तरीका क्या है इस बारे में आपको पूरे इंटरनेट पर जवाब नहीं मिलेगा क्योंकि गूगल की कुछ पॉलिसी होती है जिन्हें सब को फॉलो करना होता है इसलिए ऐसी जानकारी आपको पूरे इंटरनेट पर कोई भी नहीं देगा।

क्योंकि ऐसा करने पर गूगल उस कंटेंट को रिमूव कर देगा और फिर दूसरी बात गूगल हैक करना कोई बच्चों का खेल नहीं है या इतना आसान काम नहीं है जिसे एक आर्टिकल के माध्यम से समझाया जा सके इसलिए इंटरनेट पर इस तरह की जानकारी देने का कोई मतलब नहीं है बाकी गूगल अकाउंट को हैक करने के लिए आपको जानकारी दी जा सकती है।



लेकिन ध्यान रहे यहां पर आपको जितनी भी जानकारी दी जा रही है ये बस एजुकेशन के परपस से दी जा रही है ताकि आपको हैकिंग का थोड़ा बहुत अज्ञान हो सके और आप अपने डाटा की सेफ्टी का ध्यान रख सकें हैकर्स के अटैक से खुद के डाटा को सुरक्षित रख सकें।

नोट- यहां पर दी गई जानकारी बस लोगों की नॉलेज बढ़ाने के लिए दी गई है मेरा मकसद हैकिंग को बढ़ावा देना बिल्कुल भी नहीं है हैकिंग पूरी तरह से इल्लीगल है इसलिए हैकिंग का कोई भी गलत इस्तेमाल ना करे यदि आप हैकिंग का गलत इस्तेमाल करते हैं तो इसके जिम्मेदार आप खुद होंगे।

गाइज़ गूगल को हैक करने के लिए एथिकल हैकिंग कोर्स सीखना होगा और आपको एक सर्टिफाइड हैकर बनना होगा यदि आप एथिकल हैकिंग कोर्स कर लेते हैं और आप एक सर्टिफाइड हैकर बन जाते हैं तो ऐसे में आपको बड़ी-बड़ी कंपनियां खुद ऑफर करती हैं ताकि आप उनकी कंपनी की सिक्योरिटी का खास ध्यान रख सकें आज हर कंपनी अपनी सिक्योरिटी के लिए बड़े से बड़े हैकर को जॉब पर रखती है और उन्हें अच्छी खासी रकम भी देती है ताकि वही सर्टिफाइड हैकर उनकी कंपनी की सिक्योरिटी को मजबूत बनाने के लिए दिन रात काम करें आज गूगल के पास भी हैकर की बहुत बड़ी टीम है जिन्हें हम एथिकल हैकर्स कहते हैं जो गूगल कंपनी के लिए काम करते हैं और उसे बुरे हैकर के अटैक से बचाते हैं जिन्हें हम ब्लैक हैकर भी कहते हैं अगर आप हैकिंग की फील्ड में उतरना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको ये पता होना बहुत जरूरी है की हैकर्स कितने तरह के होते हैं।



हैकर कितने तरह के होते हैं और कौनसे हैकर गूगल को हैक करते हैं?

गाइज़ जैसे कि इंसान हर तरह के होते हैं अच्छे और बुरे या नॉर्मल हर तरह के इंसान इस दुनिया में पाए जाते हैं ठीक उसी तरह से हैकर्स को भी कुछ भागों में बांटा गया है हालांकि हैकर्स इंसान ही होते हैं लेकिन हैकर्स को भी अलग-अलग नाम दिया गया है चलिए मैं आपको बताता हूं।

वाइट हैट हैकर्स- ये हैकर्स अच्छे होते हैं व्हाइट हैट हैकर कभी भी किसी आम इंसान को या किसी बड़ी कंपनी को नुकसान नहीं पहुंचाता है व्हाइट हैट हैकर को हम एथिकल हैकर के नाम से भी जानते हैं व्हाइट हैट हैकर सरकार के लिए या अपने देश की सुरक्षा के लिए काम करते हैं और यही हैकर बड़ी-बड़ी कंपनियों के लिए भी काम करते हैं और उन कंपनियों को मजबूत बनाते हैं ताकि जो बुरे हैकर होते हैं वो कभी किसी भी तरह का कोई नुकसान ना पहुंचा सकें व्हाइट हैट हैकर हमेशा लोगों की मदद के लिए तैयार रहते हैं और हमें बुरे हैकर से बचाने की कोशिश करते हैं अगर आप भी व्हाइट हैट हैकर बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको एथिकल हैकिंग कोर्स करना होगा और आप को कई सारी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज भी सीखना होगा क्योंकि आप जितनी भी ज्यादा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखेंगे आपकी हैकिंग स्किल उतनी ही ज्यादा मजबूत होगी।

ब्राउन हैट हैकर्स- ये हैकर्स बीच के होते हैं यानी की मीडियम होते हैं न ही ये बुरे होते हैं और न ही ये अच्छे होते हैं ये अपने मन के अनुसार काम करते हैं ब्राउन हैट हैकर कभी भी किसी के अंडर में काम नहीं करता है क्यूकी इन्हें अपनी आजादी काफी पसंद होती है इसलिए ये कभी किसी कंपनी के लिए या किसी सरकार के लिए काम नहीं करते हैं जो इनका मन होता है वही करते हैं अगर इनका मन हुआ तो ये लोगों का डाटा हैक कर सकते हैं और अगर मन हुआ तो ये आपका डाटा वापस भी कर सकते हैं या आपको बुरे हैकर से बचा भी सकते हैं कुल मिलाकर ये अपने मन अनुसार काम करते हैं।




ब्लैक हैट हैकर्स- अब आते हैं ब्लैक हैट हैकर्स जो की बहुत ही बुरे और बेहद खतरनाक होते हैं ये वही हैकर्स होते हैं जो गूगल, माइक्रोसॉफ्ट और एप्पल जैसी कंपनी को भी नहीं बख्शते हैं ये बेहद शातिर दिमाग के होते हैं इन्हें पकड़ पाना बहुत ही मुश्किल काम होता है ये कभी भी अपनी जिंदगी में कोई अच्छा काम नहीं करते हैं हमेशा लोगों को नुकसान पहुंचाते हैं उनके डाटा को चुराते हैं और फिर नष्ट भी कर देते हैं और तो और लोगों को ब्लैकमेल भी करते हैं इसके बदले अच्छी खासी रकम भी लेते हैं पहले लोगों का डाटा हैक करते हैं उसके बाद ब्लैकमेल करते हैं इसके बदले में अच्छी खासी रकम वसूलते हैं उसके बाद भी कोई गारंटी नहीं होती कि ये आपका डाटा वापस देंगे या नहीं देंगे ब्लैक हैट हैकर गूगल को भी हैक करने की कोशिश में लगे रहते हैं और मौके की तलाश में रहते हैं कि कब कहां पर गूगल के अंदर कोई भी कमी देखने को मिले और ये गूगल को हैक कर लें इसके लिए ये सिस्टम पर 24 घंटा नजर गड़ा कर बैठते हैं और गूगल जैसे प्लेटफार्म पर नजर रखते हैं उनकी हर एक-एक एक्टिविटी को ध्यान से देखते हैं और आए दिन गूगल जैसी बड़ी कंपनियों पर अटैक करते रहते हैं इन्हें हैकिंग की दुनिया का बेताज बादशाह भी कहा जाता है इनका दिमाग आम इंसान के मुकाबले कई गुना ज्यादा होता है ये हमेशा लोगों की सोच से 50 कदम आगे चलते हैं ब्लैक हैकर्स कोडिंग में बहुत माहिर होते हैं इनकी स्किल बहुत पावरफुल होती है इनके दिमाग में रात दिन कोडिंग और प्रोग्रामिंग लैंग्वेज गूंजती रहती है।

Google ko hack kaise karen

Keylogger method से गूगल को हैक कैसे करें?

Keylogger एक बहुत ही प्रसिद्ध तरीका है किसी भी प्लेटफार्म को हैक करने के लिए हैकर्स इस मेथड का ताबड़तोड़ इस्तेमाल करते हैं अगर आप भी किसी का गूगल अकाउंट हैक करना चाहते हैं तो इसके लिए keylogger मेथड का इस्तेमाल कर सकते हैं इस मेथड में होता ये है कि इसके लिए हैकर एक keylogger सॉफ्टवेयर को डिजाईन करता है और उसके बाद लोगों के सिस्टम में किसी तरह से इस सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल करा देता है जैसे ही keylogger विक्टिम के फ़ोन में इन्सटॉल हो जाता है तो विक्टिम का कीबोर्ड इस सॉफ्टवेयर के अटैक में आ जाता है यानि की जब भी विक्टिम अपने कीबोर्ड से किसी तरह का भी पासवर्ड टाइप करेगा चाहे गूगल अकाउंट का हो या सोशल अकाउंट का पासवर्ड हो सारे पासवर्ड इस keylogger सॉफ्टवेयर के डेटाबेस सिस्टम में स्टोर हो जाते हैं फिर हैकर बहुत ही आसानी से उन सभी पासवर्ड को keylogger की मदद से देख लेता है और विक्टिम के अकाउंट पर एक्सेस पा लेता है तो इस तरह से keylogger की मदद से आप भी किसी का गूगल अकाउंट हैक कर सकते हैं अगर आपको keylogger सॉफ्टवेयर बनाना नही आता है तो आप इसके लिए इंटरनेट से भी keylogger को डाउनलोड कर के विक्टिम के सिस्टम में इन्सटॉल करा सकते हैं।



फिशिंग मेथड से google ko kaise hack karen?

फिशिंग एक बहुत ही पॉपुलर मेथड है हैकिंग की दुनिया में यह मेथड हैकर्स के लिए वरदान माना जाता है क्योंकि इस मेथड को सबसे ज़्यादा सक्सेस फुल माना जाता है फिशिंग मेथड से जल्दी कोई भी विक्टिम बच नहीं पाता है क्योंकि इस मेथड के जरिए हैकर अपने विक्टिम का शिकार करता है और अपने जाल में फंसा लेता है इस मेथड का इस्तेमाल करने के लिए हैकर एचटीएमएल जैसी लैंग्वेज की मदद से एक फेक लॉगइन पेज क्रिएट कर लेता है जो देखने में बिल्कुल ओरिजिनल की तरह होता है अब मान लीजिए अगर आपको किसी का गूगल अकाउंट हैक करना है तो इसके लिए आप फिशिंग मेथड से गूगल अकाउंट हैक करने के लिए जीमेल की तरह दिखने वाला सेम टू सेम 1 पेज क्रिएट करेंगे जो देखने में बिल्कुल जीमेल पेज की तरह होगा और साथ ही गूगल के मिलते जुलते डोमेन की तरह उसका डोमेन भी होगा ऐसे में विक्टिम को बिल्कुल भी पता नहीं चलेगा कि यह एक फेक पेज है तभी आप उस पेज की लिंक को अपने विक्टिम के पास मैसेज के द्वारा या जीमेल के द्वारा भेजेंगे जैसे ही आपका विक्टिम उस लिंक पर क्लिक करेगा उसके सामने एक लॉगइन पेज ओपन होकर आ जाएगा ऐसे में आपके विक्टिम को लगेगा ये पेज गूगल की तरफ से आया हुआ है ऐसे में आपका विक्टिम तुरंत वहां पर अपना पासवर्ड डालकर लॉगिन कर देगा बस इतना करने के बाद उसका पासवर्ड आपके पास पहुंच जाएगा तो इस तरह से आप किसी का भी गूगल अकाउंट हैक कर सकते हैं।



Spyware method से गूगल को हैक कैसे करें?

हैकिंग के लिए इस मेथड को भी काफी ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है इस मेथड की मदद से आप विक्टिम के फोन पर पूरी तरह से अक्सर पा सकते हैं और उसके फोन या कंप्यूटर के सारे सिस्टम को हैक कर सकते हैं इस मेथड से गूगल अकाउंट हैक करने के लिए आपको अपने विक्टिम के फ़ोन में एक स्पाई सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करना होगा सबसे पहले आपको अच्छी तरह से एक स्पाई सॉफ्टवेयर डिजाइन करना होगा अगर आपको कोडिंग प्रोग्रामिंग नहीं आती है तो इंटरनेट पर आपको कई सारे स्पाई सॉफ्टवेयर फ्री में देखने को मिल जाएंगे आप उन्हें डाउनलोड कर सकते हैं और अपने विक्टिम के फोन में किसी तरह से इंस्टॉल कर सकते हैं इंस्टॉल करने के बाद आपके विक्टिम का पूरा फोन या कंप्यूटर आपके काबू में आ जाएगा क्योंकि स्पाई सॉफ्टवेयर आपके विक्टिम के सिस्टम पर 24 घंटे नजर रखता है और पूरे सिस्टम को अपने काबू में कर लेता है इसके बाद आप उस स्पाई सॉफ्टवेयर की मदद से अपने विक्टिम के सिस्टम पर काबू पा सकते हैं और उसके गूगल अकाउंट का पासवर्ड हासिल कर सकते हैं इस बारे में और जानकारी लेने के लिए इसे पढ़ें फोन हैक करने वाला एप – पूरा पढ़ें

FAQs

क्या गूगल को हैक कर पाना आसान है?

नहीं बिल्कुल नहीं गूगल को हैक कर पाना इतना आसान काम नहीं है क्योंकि गूगल बहुत ही बड़ी कंपनी है ऐसे में गूगल अपने सिक्योरिटी के लिए खास ध्यान रखती है इसलिए गूगल को हैक कर पाना आसान काम नहीं है गूगल को हैक करने के लिए आपको हर तरह की प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में एक्सपर्ट होना जरूरी है और आपके पास हैकर्स की टीम का होना भी जरूरी है।

क्या गूगल हैक करना चाहिए?

नहीं गूगल को कभी हैक नहीं करना चाहिए क्योंकि हैकिंग एक क्राइम है यदि आप गूगल को हैक करते हुए पकड़े जाते हैं तो आप को जेल की सजा भी हो सकती है इसलिए हैकिंग का गलत इस्तेमाल ना करें।




गूगल को हैक कैसे करें?

गूगल को हैक करने के लिए आपको हैकिंग में एक्सपर्ट बनना होगा क्योंकि गूगल दुनिया का नंबर वन सर्च इंजन है इसलिए आपको नंबर वन सर्च इंजन को हैक करने के लिए नंबर वन हैकर भी बनना होगा तभी आप गूगल को हैक कर पाएंगे।

गूगल को हैक कर पाना आसान क्यों नहीं है?

गूगल को हैक कर पाना आसान इसलिए नहीं है क्योंकि गूगल GWS सर्वर का इस्तेमाल करता है इसका मतलब होता है गूगल वेब सर्वर ये गूगल का खुद का बनाया हुआ सर्वर है इस वजह से गूगल का जितना भी होता है गूगल के ही सर्वर पर अपलोड होता है इस वजह से गूगल को हैक कर पाना आसान नहीं है।

गूगल अकाउंट हैक करने के लिए सबसे बेस्ट मेथड कौन से हैं?

गूगल अकाउंट को हैक करने के लिए फिशिंग मेथड, कीलॉगर मेथड, स्पाइवेयर मेथड, डीएनएस स्पूफिंग मेथड, मैन इन द मिडिल अटैक मेथड आदि का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है।




इन्हें भी पढ़ें

Whatsapp hack karne wala app – ये है सबसे बेहतर ऍप

हैकिंग क्या है | हैकर कितने प्रकार के होते हैं?

Facebook hack hai kaise pata kare

Miya bhai ko kaise kabu mein kiya jaaye – भूल मत मिया कौन है

अंतिम शब्द

आज के इस आर्टिकल में मैंने आप लोगों को बताया है google ko hack kaise karen आशा करता हूं आपको सब कुछ अच्छी तरह से समझ आ गया होगा अगर अभी भी आपके मन में कोई सवाल बाकी हो तो कमेंट करके पूछ सकते हैं और जानकारी अच्छी लगी हो तो आगे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें इस लेख को शुरू से लेकर अंत तक पढ़ने के लिए आप सभी का धन्यवाद ऐसे ही और बेहतरीन जानकारी के लिए हमारे इस ब्लॉग पर डेली विजिट करते रहें।

5/5 - (1 vote)

Leave a Comment