डार्क वेब क्या है | what is dark web in hindi

 हैलो दोस्तों आज की इस नई पोस्ट पे आप सब का स्वागत है इस पोस्ट में हम जानेंगे dark web kya hai कैसे काम करता है किस लिए इस्तेमाल होता है आज कल हर किसी के पास स्मार्टफोन, लैपटॉप या पीसी तो ज़रूर होता है और हम सब इन्टरनेट का भी इस्तेमाल करते हैं फिर वो चाहे ऑफिस का काम हो या स्कूल, कॉलेज, हॉस्पिटल का काम हो लगभग हर जगह इन्टरनेट का इस्तेमाल होता ही होता है लेकिन क्या आपको पता है इंटरनेट की दुनिया आपकी सोच से कई गुना बड़ी है आप इसका अंदाज़ा भी नहीं लगा सकते हम सब जो इन्टरनेट का इस्तेमाल करते हैं वो सिर्फ 10% ही करते हैं बाकी का 90℅ इन्टरनेट का इस्तेमाल हम सब कर ही नही पाते अब आप यहीँ से इस बात का अंदाज़ा लगा लीजिये जो इंटरनेट का हम इस्तेमाल करते हैं वो सिर्फ कुछ परसेंट ही होता है फिर भी हम सोचते है इन्टरनेट बहुत बड़ा है लेकिन आपको ये नही पता की इंटेरनेट आपकी सोच से और भी ज़्यादा कई गुना बड़ा है। चलिये अब हम जानते हैं बाक़ी का 90% इन्टरनेट कहाँ है और कैसे इसका इसतेमाल होता है।



डार्क-वेब-क्या-होता-है


डार्क वेब क्या है इन हिंदी | deep web kya hota hai

डार्क वेब इन्टरनेट की एक काली दुनिया है जहाँ जाकर वापस से निकल पाना बहुत मुश्किल होता है इसे डार्क नेट भी कहते हैं अगर आप एक बार डार्क वेब के अंदर घुस जाते हैं तो आपको इसकी लत भी लग सकती है वैसे डार्क वेब ज़्यादा बड़ा नही है बल्की डीप वेब का एक छोटा सा हिस्सा है लेकिन डीप वेब बहुत बड़ा है जिसका इस्तेमाल कोई आम इंसान नही करता और ना ही इसके बारे में जनता है लेकिन आज इस पोस्ट में मैं आप सब को डार्क वेब, डीप वेब और सरफेस वेब की पूरी जानकारी दूँगा इसके लिए आपको इस पोस्ट को लास्ट तक पढ़ना होगा।

Surface web kya hai in hindi


हम सब जिस इन्टरनेट का इस्तेमाल करते हैं और हम सबके लिए visible होता है जिसे हम गूगल, याहू, बिंग या किसी भी सर्च इंजन में सर्च कर सकते हैं और आसानी से इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं उसी को हम सरफेस वेब कहते हैं क्यू की इसमें कोई भी आम इंसान आसानी से कुछ भी सर्च कर सकता है इसमें सारी वेबसाइट index होती है सर्च इंजन में इसलिए इन्हें कोई भी आसनी से देख सकता है या सर्च कर  सकता है। सरफेस वेब WWW ( World Wide Web ) का एक हिस्सा है जो की डीप वेब से काफी छोटा है। अब मान लीजिए आप गूगल पर गये और वह पर सर्च किये शायरी, स्टेटस, फेसबुक या कोई सी भी वेबसाइट फिर आपको जो रिजल्ट मिलता है आपके स्क्रीन पर वो सरफेस वेब ही होता है। और बात करे अगर ये कितना बड़ा होता है तो मैं आपको बता दूँ ये इन्टरनेट का सिर्फ 10% है उम्मीद करता हूँ surface web क्या होता है आपको अच्छे से समझ आ गया होगा।

Hacking kya hai yah bhi padhe

deep web kya hota hai

डीप वेब invisible होता है जिसे कोई भी आम यूजर देख नही सकता और ना ही एक्सेस कर सकता है क्यू की इसकी वेबसाइट कभी भी सर्च इंजन के अंदर index नही होती इसलिए कोई भी search engine इसका पता नही लगा सकते। डीप वेब को एक्सेस करने के लिए स्पेशल नेटवर्क की ज़रूरत पड़ती है और साथ ही परमिशन की भी ज़रूरत पड़ती है। क्यू की डीप वेब के अंदर कई सारे सिक्रेट स्टोर होते हैं वो सिक्रेट किसी भी बड़ी कम्पनी या गवर्नमेंट के हो सकते हैं या कोई भी इंसान जो चाहता है की उसका डाटा इन्टरनेट पर स्टोर हो लेकिन कोई भी उसे देख न पाए और ना ही एक्सेस कर पाए तो वो डीप वेब का इस्तेमाल करता है

डीप वेब इन्टरनेट का बहुत बड़ा हिस्सा है जो की सरफेस वेब से कई गुना बड़ा है अगर बात करे इसके परसेंट की तो डीप वेब इन्टरनेट का 90% हिस्सा है। जिसे हर कोई नहीं जानता आशा करता हूँ डीप वेब क्या है आप सबको पता चल गया होगा। अब हम बात करेंगे डार्क वेब की जिसको जानने के लिए आप सब बहुत excited हो रहे होंगे।

dark web kya hai in hindi

चलिये अब जान लेते हैं डार्क वेब क्या होता है और डार्क वेब किसे कहते हैं dark web के बारे में बहुत से लोगो को ग़लतफ़हमी भी है की डार्क वेब बहुत बड़ा होता है लेकिन नही ऐसा नही है डार्क वेब ज़्यादा बड़ा नही है बहुत छोटा है डार्क वेब के अंदर ज़्यादा से ज़्यादा 25 लाख वेबसाइट होंगी इसलिए ये बहुत बड़ा कैसे हो सकता है डार्क वेब सिर्फ एक छोटा सा हिस्सा है डीप वेब का लेकिन डार्क वेब के अंदर 90% काम illegal ही होता है क्यू की डार्क वेब की वेबसाइट किसी भी सर्च इंजन में रजिस्टर नही होती हैं मतलब index नही होती हैं और डार्क वेब के user को trace कर पाना लगभग नामुमकिन होता है क्यू की इसके अंदर यूजर की पहचान hide रहती है और ip address भी चेंज होते रहती है इसीलिए डार्क वेब को एक्सेस करने के लिए tor browser की ज़रूरत पड़ती है

और इन्टरनेट की इस काली दुनिया के अंदर इतने बुरे बुरे काम होते है की सुनकर आपकी रूह कांप जाएगी। डार्क वेब की वेबसाइट भी बिलकुल अलग होती है नार्मल वेबसाइट से इसका एक्सटेंसन .onion करके होता है onion का मतलब प्याज जिसके अंदर कई सारी परत होती है ठीक 

उसी तरह डार्क वेब की वेबसाइट के owner को या user को ट्रेस कर पाना भी बहुत मुश्किल होता है क्यू की इसके अंदर एक के बाद एक परत या जाल बनते जाता है हर एक एक सेकंड में यूजर की  ip address change होते रहती है डार्क वेब के अंदर आपको हर एक क्राइम देखने को मिल जायेगा फिर वो चाहे ड्रग्स selling हो या मर्डर, हैकिंग etc

यहाँ पर ऑनलाइन मार्केटिंग भी होती है यूजर ड्रग्स, गन, अफीम, चरस भी बेचते व खरीदते हैं सिर्फ इतना ही नही यहाँ पर फेक एटीएम कार्ड, पैन कार्ड या पासपोर्ट आदी भी मिल जाते हैं।

ISP kya hai yah bhi padhe

यहाँ आपको एक से बढ़ कर एक हैकर भी मिल जाते हैं जिन्हें आप hire कर सकते हैं किसी साइबर क्राइम को अंजाम देने के लिए और तो और आप यहाँ पर किसी का मर्डर करने के लिए सुपाड़ी भी दे सकते हैं। अब आपको बताता हूँ red room के बारे में जो की डार्क वेब या डार्क नेट के अंदर ही मौजूद है रेड रूम के अंदर enter करने के लिए यूजर को पैसे देने पड़ते हैं यूजर पैसे देकर वहाँ enter करता है लेकिन अब आप सोच रहे होंगे आखिर red room kya hai , red room ke andar kya hota hai तो आपको बता दूँ रेड रूम के अंदर लाइव मर्डर, लाइव टॉर्चर या लाइव रेप होता है जिसको देखने के लिए यूजर डार्क रूम में इंटर करते हैं और सिर्फ देखने के लिए ही नही enter करते बल्कि बोली भी लगाते है जैसे की अब इसका हाथ काट दो इतने पैसा दूँगा कोई कहता है इसका पैर काट दो इतने पैसे दूँगा या इसे और टॉर्चर करो या तो इसकी जान लेलो इतने पैसे दूँगा इस तरह की बोली लगती है और रेड रूम के अंदर सिर्फ इतना ही नहीं इंसानो की बॉडी के एक एक पार्ट्स भी खा कर दिखाते हैं और फिर बताते हैं इसका ये पार्ट ज़्यादा टेस्टी है। सिर्फ यही नही आपको ये भी सिखाते हैं की ज़्यादा से ज़्यादा टॉर्चर कैसे किया जाता है, लाश को ठिकाने कैसे करते है, किडनेपिंग कैसे करते हैं या मर्डर कैसे करते हैं। अब आप यही से डार्क वेब कितना खतरनाक है इसका अंदाज़ा लगा सकते हैं। डार्क वेब या डार्क नेट इन्टरनेट की सबसे काली दुनिया मानी जाती है। इसके अंदर बहुत बड़े बड़े ग्रुप भी चलाये जाते हैं यहाँ पर हर तरह के ग्रुप देखने को मिल जायेंगे।


चलिये अब बात करते हैं की डार्क वेब के अंदर enter कैसे करते हैं। डार्क वेब को एक्सेस करने के लिए आपको tor browser installकरना होगा क्यू की इसे आप किसी नार्मल ब्राउज़र से एक्सेस नही कर सकते टोर ब्राउज़र इनस्टॉल करने के बाद आपको उसे इन्टरनेट से कनेक्ट करना होगा और फिर आप को उसी के अंदर सर्च करना होगा किसी एक डार्क वेब की वेबसाइट को तभी आप डार्क वेब में enter कर पाएंगे इसके अंदर लाखो वेबसाइट मौजद है। हालांकि मैं आपसे वेबसाइट शेयर नही कर सकता क्यू की ये आपके लिए बिलकुल भी सेफ नही है मैं बस नॉलेज के purpose से आपको ये जानकारी शेयर कर रहा हूँ आप इसका गलत इस्तेमाल कभी न करें और इसके अंदर enter करके आपका डाटा हैक भी हो सकता है क्यू की यहाँ पर बहुत बड़े बड़े हैकर भी मौजूद होते हैं। मान लीजिए अपने किसी डार्क वेब की वेबसाइट को ओपन किया आपको वहाँ पर कोई ऐड दिखा और आपने गलती से उसपर क्लिक कर दिया।

आपके सामने कोई लिंक दिखी अपने उसे ओपन करने के लिए क्लिक किया तो आप का पूरा फ़ोन, कंप्यूटर हैक हो सकता है। इसलिए बहुत अलर्ट रहना जरूरी होता है। और अपने गलती से अगर अपनी पहचान छोड़ दी डार्क वेब पर तो पुलिस आपको ट्रेस भी कर सकती है। और एक बात को हमेशा याद रखे डार्क वेब के अंदर हर देश की पुलिस टीम भी हो सकती है फेक यूजर नाम से जो की आपसे डील करेंगे और बहाने से आपकी इनफार्मेशन आपसे पूछ सकते हैं फिर आपको आसानी से ट्रेस कर सकते हैं इसलिए आपको कोई भी गलत काम नही करना है।


Tor browser kya hai yah bhi padhe

Dark web is legal or illegal

डार्क वेब को एक्सेस करना लीगल है लेकिन तब तक जब तक आप वहाँ कोई गलत काम नही करते लेकिन अगर आप वहाँ पर ड्रग्स, गन, अफीम या इंसानो के बॉडी पार्ट्स बेचते खरीदते हैं तो ये पूरी तरह से illegal है अगर आप पकड़े गये तो  इसके लिए आपको जेल भी हो सकती है। इसिलए डार्क वेब भले ही लीगल है लेकिन आपको वहाँ enter करने के लिए गवर्नमेंट भी मना करती है इसलिए जब तक आपको इसकी ज़रूरत न पड़े आप इस काली दुनिया में न पड़े।

डार्क वेब किसने बनाया | dark web ka malik kaun hai


डार्क वेब को बनाने वाला कोई और नही डार्क नेट के यूजर और एक्सेस करने के लिए टोर, फ्रीनेट, आई2पी और राइफल जैसे बड़े बड़े नेटवर्क का बड़ा योगदान है। उम्मीद करता हूँ आप सब को डार्क वेब की सारी नॉलेज जानकर काफी अच्छा लगा होगा अगर आपको आज की ये पोस्ट पसंद आयी हो तो अपने दोस्तों के साथ भी ज़रूर शेयर करें।

Warning: डार्क वेब की सारी जानकारी सिर्फ और सिर्फ आपको नॉलेज पर्पस के लिए ही दी गयी है। मैं आपको यही सलाह देता हूँ की आप डार्क वेब के अंदर enter करने का प्रयास न करें अगर आप डार्क वेब में enter करते हैं तो इसके ज़िम्मेदार आप होंगे darkmedia123.com का owner इसका ज़िम्मेदार नही होगा।

Rate this post

Leave a Comment